हिंदी दिवस भारत माता रो कर कहती मुझे बचाओ भारतवासी

भदोही। नगर से सटे पिंपरी गांव में स्थित माडर्न पब्लिक इंटरमीडिएट कालेज में हिंदी दिवस के अवसर पर अक्षर आरसी संस्था के तत्वावधान में कवि सम्मेलन व मुशायरा का आयोजन किया गया। जिसका शुभारंभ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भोलानाथ कुशवाहा व विद्यालय के प्रबंधक राजेंद्र प्रसाद यादव उर्फ लल्ला ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर किया।
इस दौरान कवि संदीप कुमार बालाजी ने अपनी रचना ” दिन के उजाले में चेहरे न साफ हुए, बेगुनाह फंसे रहे और गुनाहगार माफ हुए’। सुना कर खूब वाहवाही लूटी। वहीं डा. शैलेश पाठक सरस की गीत कुछ इस तरह से रही ” रो-रोकर कहती भारत माता, मुझे बचाओ भारतवासी’। जो खूब सराहा गया। गीतकार विद्यापति कोकिल ने अपने गीत को ऐसे पढ़ा ” हर जनों में प्यार बढ़ाती है ये हिन्दी, सब में शुद्ध भाव जगाती हैं ये हिन्दी’। इसे लोगों ने काफी पसंद किया। कवि कन्हैया लाल दूबे ने निशांत ने कहा कि ” मेरे भावों में हिन्दी इस कदर समाई है, जहां देखा वही सजी सुरत नजर आई है। साथ ही शायर कैंसर जौनपुरी व शाबान करीमी ने एक से बढ़कर एक गीतों एवं गजलों की प्रस्तुति देकर खूब वाहवाही लूटी। साथ ही अजय विश्वकर्मा, प्रेम जौनपुरी, एकल बनारसी, योगेन्द्र प्रताप मौर्य ने भी अपनी रचनाओं को सुनाया।
इस मौके पर महेश चंद्र कण, रोहित चौरसिया, सुनील यादव, जगदम्बा प्रसाद आलोक, संजय सरोज शास्त्री, कुलदीप यादव, आंचल मिश्रा, अभिनव सिंह, सुनील कुमार मौर्य, अशोक शर्मा, विजय राज, राकेश यादव, रामजीत यादव, सरोज गुप्ता, रुखसार बानो, पवन मौर्य, अखिलेश गौड़, सुनील कुमार मौर्य आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता कर्मराज किसलय ने की। अंत में विद्यालय के प्रधानाचार्य राजेंद्र कुमार यादव ने सभी के प्रति आभार जताया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Follow by Email
Facebook
Facebook
YouTube
INSTAGRAM