सेना के साथ छोटे भाई भारत को देखकर चिंता में पड़ गए प्रभु श्री राम गोपीगंज रामलीला में यह दृश्य बहुत मार्मिक रहा

रामलीला मैदान गोपीगंज मे श्री राम लीला समिति गोपीगंज द्वारा आयोजित रामलीला मे शुक्रवार को चित्रकुट मे राम भरत मिलन लीला का मार्मिक मंचन किया गया |राम को देखकर भरत पाहिनाथ पाहिगोसाई कह कर भूमि पर गिर पड़े तो प्रभु श्री राम दौड़ कर उन्हें उठा कर गले लगा लिया जिसे देख लीला प्रेमियो की आखे छलक उठी |भगवान राम को मनाने के लिए भरद्वाज मुनि से अनुमति लेकर भरत निकले तो यह देख इंद्र देव घबड़ा गये उन्होने देव गुरु व्रिहस्पति से कोई उपाय करने को कहा ताकि वह राम से न मिल सके देव गुरु उन्हें समझाते है और एसा न करने की सलाह देते है |भरत जी यमुना पार कर ग्राम वासियों से मिलते है |भरत को चतुरंगिणी सेना के साथ आते देख गांव के लोग संदेह करते है |उघर माता सीता प्रभु श्री राम से स्वप्न की चर्चा करते हुए कहती है कि भरत आये है | लक्ष्मण इसे अपसकुन मानते है|कोल भील की बात सुन कर राम सोच मे पड़ जाते है कि भरत अपनी भारी भरकम सेना के साथ क्यो आ रहे है |लक्ष्मण संदेह व्यक्त करते हुए कहते है वह राजसिंहासन पाकर धर्म की मर्यादा भूल कर आपसे युद्ध करने के लिए आ रहे है |तभी आकाशवाणी होती है प्रभु श्री राम उन्हें समझाते है कि भरत भूल कर भी एसा नही कर सकते |भरत गुरु की अनुमति लेकर राम से मिलने जाते है | पेड़ की आड़ से उन्हें देखते ही पाहिनाथ पाहि गोसाई कहकर भूमि पर गिर जाते है |यह देख प्रभु श्री राम और लक्ष्मण नंगे पाव दौड़ कर उन्हें उठा कर गले से लगा लेते हैं | चारो भाईयो का चित्रकूट मे मिलन देख लीला प्रेमियो की आखे छलक उठती है | पिता की आञा का पालन करने की बात कहकर प्रभु श्री राम भरत को वापस लौट जाने के लिए राजी कर लेते है |भरत प्रभु श्री राम की चरण पादुका लेकर वापस लौटते है |इसी के साथ आरती पूजन कर अगले दिन के लिए राम लीला स्थगित कर दिया गया | इस मौके पर आयोजन समिति के साथ बड़ी संख्या मे रामलीला प्रेमी मौजूद रहे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Follow by Email
Facebook
Facebook
YouTube
INSTAGRAM